श्री गोपीनाथ जी मंदिर वृंदावन

स्थान जहाँ से मूर्ति मिली : यमुना किनारे वंशीवट से
स्थान जहाँ मूर्ति स्थापित है : पुरानी बस्ती, जयपुर

भगवान श्रीकृष्ण की यह मूर्ति संत परमानंद भट्ट को यमुना जी के किनारे वंशीवट पर मिली और उन्होंने इस प्रतिमा को निधिवन के पास स्थापित कर मधु गोस्वामी जी को इनकी सेवा पूजा सौंपी। बाद में रायसल राजपूतों ने यहाँ मंदिर बनवाया पर औरंगजेब के आक्रमण के दौरान इस प्रतिमा को भी जयपुर ले जाया गया। तब से गोपीनाथ जी वहाँ पुरानी बस्ती स्थित गोपीनाथ मंदिर में विराजमान हैं।

Shri Gopinath Ji Temple Vrindavan Address and Location with Google Map