मित्रों ब्रज की विश्व व्यख्यात् लठामार होली का ढाडा 1 फरवरी ( बसंत पंचमी ) 2018 को गढ गया है। 22 जनवरी यानि बसंत पंचमी से पुर ब्रज में होली महोत्सव शुरू हो चुका है। ब्रज के समस्त मन्दिरों में और ब्रज के गाँवों में व समस्त ब्रज में होली का रंग बरसना शुरू हो चुका है। पुरे विश्व में होली की शुरूआत ब्रज के बाबा बृषभानु के निज गाँव बरसाना से शुरू होती है जो अनन्तों ब्रह्माण्डों के स्वामी भगवान श्रीकृष्ण की स्वामनी हमारी लाडली श्रीराधा जी की जन्म स्थली – क्रीडा स्थली – लीला स्थली है। मित्रों वैसे तो बसंत पंचमी से लगातार होली महोत्सव धूरेडी तक चलता है। लेकिन विशेष विशाल होली महोत्सव फाल्गुन शुक्लपक्ष अष्टमी से यानि लड्डू फेक होली से शुरू होता है।

1 मार्च – होलिका दहन
2 मार्च – रंगवाली होली, धुलंडी

19-2-2018 रमणरेती,गोकुल होली

23-2-2018 नंदगाँव फाग आमंत्रण उत्सव

23-2-2018 बरसाना लड्डू होली

24-2-2018 बरसाना लठामार होली

25-2-2018 नंदगाँव लठामार होली

26-2-2018 श्रीकृष्ण जन्मभूमि की होली

26-2-2018 वृन्दावन की होली

27-2-2018 छड़ीमार होली, गोकुल

01-03-2018 होलिका दहन, फालैन का पंडा

02-03-2018 द्वारिकाधीश होली, चतुर्वेदी समाज का डोला

03-03-2018 दाऊजी का हुरंगा, जाव का हुरंगा,नंदगाँव का हुरंगा।

03-03-2018 मुखराई का चरकुला नृत्य

04-03-2018 बठैन का हुरंगा, गिडोह का हुरंगा।

Mathura Vrindavan Holi Festival Images

Shri Dwarkadhish Temple Holi Video